October 30, 2020

लॉक डाउन के दौरान जरुरी दवाओं , मास्क और सेनेटाइजर की आपूर्ति में नहीं है कोई बाधा :- दुर्गेश खटवानी

:

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा देश में इक्कीस दिन के लॉक डाउन के दौरान सबसे बड़ी चुनौती खाद्यान्न और चिकत्सा , और दवाओं की आपूर्ति को सुनिश्चित रखने की थी , लॉक डाउन की घोषणा होते ही लोगो ने अपने घरो में महीने भर का राशन और जरुरत की दवाइयाँ भरनी शुरू कर दी थी जिसके बाद बाज़ार में मांग और आपूर्ति में जबरदस्त अंतर को देखते हुए जमाखोरी और मुनाफा वसूली से आम आदमी का उत्पीड़न तय था ऐसे मुश्किल समय में बरेली केमिस्ट एसोशियन ने आगे आकर बाज़ार में मुनाफाखोरी और जमाखोरी पर नियंत्रण किया , सेनेटाइजर और मास्क चूँकि पहले आम आदमी के उपयोग की वस्तुएं नहीं थे लिहाजा इनकी कमी बाज़ार में थी मगर मांग बढ़ने के साथ साथ मास्क की आपूर्ति भी लगभग सुचारु हो गई
केमिस्ट एसोशियन के अध्यक्ष दुर्गेश खटवानी बताते हैं कि अब थ्री प्लाई मास्क 10 रूपए में आराम से बाज़ार में उपलब्ध है और सेनेटाइजर की कीमते भी सरकार द्वारा तय कर दी गई है नई पैकिंग के साथ सेनेटाइजर जल्द ही बाजार में मिलने लगेगा , अच्छी बात ये है की बरेली में ही सेनेटाइजर की एक फैक्ट्री लग गई है जिसके बाद अब आसानी से सभी लोगो को सेनेटाइजर उपलब्ध हो सकेगा , दुर्गेश खटवानी बताते हैं की ट्रांसपोर्ट बंद होने की वजह से कुछ दवाओं की आपूर्ति में दिक्कत है मगर जिला प्रशासन के सहयोग से वो भी जल्द ही दूर हो जायगी

: